ताश के पत्ते 👩‍❤️‍👨😱🤗

अमन और नेहा आज मेजबानी करने वाले हैं, दावत की तैयारी हो रही उनके करीबी मित्र रोहित और ज्योति के लिए.. कुछ महीने पहले ही उनकी दोस्ती हुई लेकिन जल्द ही पारिवारिक रिश्ते बन गए, रोहित अमन के साथ ही काम करता है 👩‍❤️‍👨👩‍❤️‍👨

दोनों जोड़ों की शादी को लगभग एक साल हो गया, अपने पैतृक शहर से दूर जहां और कोई करीबी मित्र नहीं है.. पर अब तो महीने में 1-2 बार प्लान बन ही जाता है मिलने का, जमकर मस्ती करते हैं  कभी इस घर कभी उस घर 🥳🥳

वैसे शनिवार को ही प्लान होता है अक्सर, देर रात तक साथ रहते हैं.. गपशप खेल या कुछ और कर लेते हैं 🥁🥁

रोहित का स्वभाव गंभीर है, जबकि ज्योति नटखट चुलबुली लड़की है.. अमन अपने सिद्धांतों पर चलने वाला तेज स्वभाव का है वहीं नेहा बहुमुखी प्रतिभा की धनी 🧏‍♂️🤷‍♀️

एक दूसरे से कुछ भिन्न किंतु दोनों जोड़ियों में आपस में बहुत प्यार है, रोहित ज्योति की नोंकझोक होती है पर वो हर पल का आनंद लेते हैं.. अमन नेहा की भी छोटी मोटी लड़ाई होती है, वैचारिक मतभेद रहता है पर प्यार के चलते फिर एक हो जाते हैं 💁‍♀️🙅‍♂️

अमन नेहा की लव मैरिज हुई थी, रोहित ज्योति की अरेंज.. कुल मिलाकर उनके रिश्ते में आम लोगों की तरह प्यार, तकरार, रूठना, मनाना ये सारे रंग हैं  😍🤣🤭

अमन.. जल्दी रेडी हो जाओ 8 बज गए.. तुम बहुत आलसी हो, कहकर नेहा भी तैयार होने चली गई.. सारी तैयारी हो चुकी थी, ज्योति को पाव भाजी पसंद थी सो वही बनाया और हां रोहित की मनपसंद खीर भी साथ 🍲🍛

ठीक 8:30 पर मेहमान आ गए, कुछ देर इधर उधर की बातें और फिर मजेदार भोजन.. डिनर करके अमन रोहित पान लेने चले गए, इधर दोनों लड़कियां आगे की तैयारी में लग गई 🥗🍧

महफ़िल सज चुकी 10 बजे, ताश के पत्तों की गड्डी इंतजार कर रही अपने खिलाड़ियों का.. रात लंबी होना तय है, तरह तरह के खेल कुछ अकेले कुछ जोड़ियों में खेले जाएंगे 🎊🎊

सबसे पहले रमी से शुरुआत हुई, दोनों युगल एक दूसरे को खेल खेल में हराने की बात करके छेड़ने लगे.. अमन और नेहा हर बार इसी कोशिश में रहते हैं कि एक दूसरे को कैसे हराया जाए, फिर चाहे खेल कोई भी क्यूं ना हो 🤛🤜

सबसे पहले बाहर होने वाला रोहित था, ज्योति अपने ही अंदाज़ में खेल रही थी.. कभी अमन जीत जाता तो कभी नेहा, उनकी नोंकझोक तकरार के पास तक अक्सर आ जाती 😎🧐

अगला खेल ज़ीरो गेम था, इससे भी रोहित जल्द ही बाहर हो जाता है.. अमन और नेहा पूरे मन से खेलते हैं, किसी तरह भी उन्हें हारना नहीं था 🤓😳

1 बजे कॉफी का दौर शुरू हुआ, अब अकेले अकेले खेलने की बजाय जोड़ियों में खेल होगा.. दहला पकड़ जोड़ी! अमन के साथ ज्योति, नेहा के साथ रोहित 👫👫

अमन ने ज्योति को अच्छी तरह से समझाया की कैसे जीतना है, वहीं नेहा रोहित को समझाइश दे रही की हारना बिल्कुल नहीं है.. खैर पहली बाज़ी शुरू हुई पूरे जोश के साथ, कोई किसी से कम नहीं पूरे होश के साथ 🧏🧏‍♀️

थोड़ी देर मामला बराबरी का रहा फिर ज्योति के कारण अमन बाज़ी हार गया, इसी तरह अगली बाज़ी भी अमन हार गया.. फिर आगे की कुछ बाजियां नेहा हार गई रोहित की वजह से, अमन नेहा अभी भी अपने को बेहतर साबित करने की कोशिश में थे 💁‍♀️💁‍♂️

उनकी नोंकझोंक अब तकरार और धीरे धीरे तीखी बहस में परिवर्तित हो गई, अच्छा भला मस्ती का माहौल अब कुछ खामोशी में बदल गया.. 3 बजे के आसपास रोहित ज्योति ने विदा ली, घर बहुत दूर नहीं था सो देर रात जाना भी ठीक था 🤷‍♀️🤷‍♂️

अमन और नेहा अब एक दूसरे से बात नहीं कर रहे, दोनों अलग अलग रूम में सोने चले गए.. कुछ देर पहले जहां बहुत सारी खुशियां थी, वो घर अब गम तनाव अकेलेपन में बदल चुका था 🙇‍♀️🙇‍♂️

उधर रोहित और ज्योति बड़े खुश थे, उन्होंने पूरा आनंद लिया आज रात का.. रोहित जो पहले 2 खेल में हारा था वो ज्योति को जिताने के लिए, और दहले पकड़ में शुरू की कुछ बाजियां ज्योति हार गई वहीं अगली बाजियां रोहित हार गया सिर्फ अपने साथी की खुशी के लिए 💃🕺

हालांकि वो दोनों ना तो जीत की बात कर रहे थे ना हार की, ना कोई त्याग दिखाने की ललक बल्कि अच्छे पलों को याद कर रहे.. सिर्फ समर्पण था अपने प्यार के लिए जिसकी नुमाइश नहीं करनी, पर हां दोनों ही ये बात समझते हैं अंतर्मन से 👩‍❤️‍👨😘

जहां एक ओर सब कुछ प्लान करके, अच्छा करने की कोशिश, माकूल वातावरण बनाने के बावजूद अमन और नेहा अब बड़े दुखी थे.. बात भी नहीं कर रहे, जितनी खुशी मिली अब उससे ज्यादा दुःख क्यूंकि वो अपने लिए खेल रहे थे.. स्वार्थी होकर, दूसरे को हराने की कोशिश में उनके अहंकार और घमंड ने प्यार से पहले जगह ले ली थी 🤦‍♀️🤦‍♂️

दूसरी ओर रोहित और ज्योति अपने साथी की जीत में अपनी जीत मान रहे थे, प्यार समर्पण का अनूठा संगम.. वो बहुत खुश थे, एक दूसरे की भावनाओं को ना सिर्फ समझते थे बल्कि पूरा सम्मान करते थे.. 👉👈

ताश के पत्तों के पीछे से उनका प्यार दूसरे के लिए जाहिर होता है, मिलकर रहने से सोच भी सकारात्मक होती है.. खेल चाहे जो हो वो हमेशा ऐसे ही खेलेंगे, ताश के पत्ते उनकी कहानी कहते रहेंगे…

🥰😍💃🕺🤩👩‍❤️‍👨💃🕺😘🥰