Ankur Tawar

श्रावण मास – शिवजी चले भक्तों से मिलने

श्रावण मास, शिवजी की आराधना के लिए सबसे स्वर्णिम अवसर होता है। भोलेनाथ धरती के लिए निकल ही रहे थे कि माता पार्वती बोली – प्रभु आप कहां जा रहे हैं? प्रभु बोले, अपने कुछ भक्तों से मिलने..माता बोली, कुछ.. 😳 प्रभु, पूरी दुनिया आपकी भक्त है.. और अगर आप सिर्फ मंदिरों में भी गए तो …

श्रावण मास – शिवजी चले भक्तों से मिलने Read More »

शुभ संध्या🌦️🌺🎋🍁🌦️

शाम का मौसम, रंगीन नज़ारा,सुहाना आसमां, महक रहा जहां सारा!कोरोना ने किया पास अपनों को,मिटा रहा हर दिन दिलों की दूरी!! पहले कहां था इतना समय,की पूछ सके परख खैर खबर!अब तो एक एक शब्द पढ़ा जाता,मन में उतार कर अर्थ समझा जाता!! मिलकर बांटें खुशियां एक दूसरे से,गम सबके अपनी दुआओं से हटाएं!कहां घर …

शुभ संध्या🌦️🌺🎋🍁🌦️ Read More »

“सृष्टि के तीन सूक्ष्म मूलभूत तत्त्व:” सत्व, रज एवम् तम !!!

सृष्टि की रचना मूल त्रिगुणों से हुई है, सत्त्व, रज एवं तम । ये तीनों घटक सजीव-निर्जीव, स्थूल-सूक्ष्म वस्तुओं में विद्यमान होते हैं । इससे प्रत्येक वस्तु का व्यवहार भी प्रभावित होता है । मनुष्य में इनका अनुपात केवल साधना से ही परिवर्तित किया जा सकता है । 😍😘 आधुनिक विज्ञान के अनुसार, सृष्टि स्थूल …

“सृष्टि के तीन सूक्ष्म मूलभूत तत्त्व:” सत्व, रज एवम् तम !!! Read More »

माँ सिद्धिदात्री – सिद्धि प्रदान करने वाली देवी

माँ सिद्धिदात्री भक्तों और साधकों को सभी सिद्धियाँ प्रदान करने में समर्थ हैं। देवीपुराण के अनुसार भगवान शिव ने इनकी कृपा से ही इन सिद्धियों को प्राप्त किया था। इनकी अनुकम्पा से ही भगवान शिव का आधा शरीर देवी का हुआ था। इसी कारण वे लोक में ‘अर्द्धनारीश्वर’ नाम से प्रसिद्ध हुए। माँ सिद्धिदात्री चार …

माँ सिद्धिदात्री – सिद्धि प्रदान करने वाली देवी Read More »

!!! चैत्र नवरात्रि 2020 – अपनी राशि अनुसार मां की आराधना (25 मार्च – 2 अप्रैल) !!!

हिन्दू धर्म में नवरात्रि वर्ष में 4 बार आती है जिनमें से 2 नवरात्रि गुप्त मानी जाती है, बाकी दो नवरात्रि में से एक शारदीय नवरात्रि होती है जो कि माह अक्टूबर के आस पास आती है जबकि दूसरी चैत्र नवरात्रि होती है जो कल दिनांक 25 मार्च से शुरू हो रही है “चैत्र नवरात्रि” …

!!! चैत्र नवरात्रि 2020 – अपनी राशि अनुसार मां की आराधना (25 मार्च – 2 अप्रैल) !!! Read More »

!!! पंचक – अर्थ, योग, प्रकार !!!

“पंचक” का नाम सभी ने सुना होगा, लेकिन शायद उसका अर्थ ज्यादा लोग नहीं जानते.. अक्सर हिन्दू धर्म में शुभ कार्य जैसे शादी ब्याह, घर वास्तु, पूजा पाठ करने के समय पंचक को देखा जाता है आज हम पंचक को समझने की कोशिश करते हैं, साथ ही जानेंगे की किस तरह ये ज्योतिष गुणों से …

!!! पंचक – अर्थ, योग, प्रकार !!! Read More »

!! मंगल ग्रह का गोचर मकर राशि में !!

मंगल ग्रह का गोचर आज दोपहर 2:40 पर मकर राशि में हो गया, ये इस राशि में 4 मई तक रहेगा 5 अप्रैल तक उत्तरा आषाढ़, सूर्य के नक्षत्र में 5 अप्रैल से 20 अप्रैल तक श्रावण, चंद्रमा के नक्षत्र में और फिर 4 मई तक धनिष्ठा, खुद के नक्षत्र में रहेगा सारे नक्षत्र मित्र …

!! मंगल ग्रह का गोचर मकर राशि में !! Read More »

ताश के पत्ते 👩‍❤️‍👨😱🤗

अमन और नेहा आज मेजबानी करने वाले हैं, दावत की तैयारी हो रही उनके करीबी मित्र रोहित और ज्योति के लिए.. कुछ महीने पहले ही उनकी दोस्ती हुई लेकिन जल्द ही पारिवारिक रिश्ते बन गए, रोहित अमन के साथ ही काम करता है 👩‍❤️‍👨👩‍❤️‍👨 दोनों जोड़ों की शादी को लगभग एक साल हो गया, अपने …

ताश के पत्ते 👩‍❤️‍👨😱🤗 Read More »